Astrological Topic Archive

गुरु बृहस्पति गोचर 2019 का समय और प्रभाव

गुरु बृहस्पति गोचर 2019 आइए जानते है की किन राशियों का चमकेगा भाग्य और किन राशियों का शुरू होगा दुर्भाग्य

whatsapp astrology

हिन्दू शास्त्र में गुरु बृहस्पति गोचर को बहुत ही सर्वोपरि माना जाता है। सौर मंडल में स्थित जितने भी नवग्रह है उन सभी ग्रहों में गुरु ग्रह को बहुत ही शुभ ग्रह माना गया है।

To Read out in English, Please click here

गुरु बृहस्पति ग्रह को इन दोनों राशियों धनु और मीन का स्वामी माना जाता है। गुरु के प्रभाव से इनसानों का मन धर्म पूर्ण रूप से आध्यात्मिक कार्यों में ज्यादा होता है।

गुरु बृहस्पति कर्क राशि में उच्च होने पर आपके कारोबार और आपसे जुड़ी हर चीज में सफलता देगा जिससे आपके जीवन में खुशी की लहर दौड़ जाएगी।

और अगर आपका गुरु बृहस्पति मकर राशि में नीच का है तो आपके लिए काफी दुखद होगा इससे आपको शारीरिक कष्ट भी हो सकता है तो आप मकर राशि के जातक है तो सचेत हो जाए।

तो चलिये अब हम जानते है गुरु बृहस्पति गोचर 2019 के बारे में।

गुरु बृहस्पति गोचर

गुरु बृहस्पति गोचर 2019 का समय

वृश्चिक से धनु राशि में 5 नवंबर 2019 पर होगा।

धनु से मकर में होगा 30 मार्च 2020 रात को होगा ।

मकर से धनु  में 30 जून 2020 को होगा ।

आखिर में धनु से मकर में जायेगा 20 नवंबर 2020 को ।

गुरु बृहस्पति गोचर 2019

गुरु बृहस्पति गोचर 2019 – नक्षत्र गोचर वर्ष 2020 में

मूला से पूर्व असाढ़  – 4 जनवरी 2020

पूर्व असाढ़ से उत्तरा असाढ़ – 8 मार्च 2020

उत्तरा असाढ़ से पूर्व असाढ़ (वक्री)- 26 जुलाई 2020

पूर्व असाढ़ तो उत्तरा असाढ़ – 30 अक्तूबर 2020

गुरु बृहस्पति गोचर नक्षत्र गोचर

इसके बाद गुरु इसी नक्षत्र में रहेगा।

गुरु  के वक्री का समय

गुरु वक्री होगा 14 मई 2020

गुरु मार्गी होंगे 13 सितम्बर 2020

गुरु बृहस्पति गोचर वक्री समय

गुरु के अस्त का समय

गुरु तारा अस्त शुरू होगा 17 दिसंबर 2019 को

गुरु तारा अस्त ख़त्म होगा 11 जनवरी 2020 को

गुरु बृहस्पति गोचर में अस्त समय

गुरु गोचर 2019 का मेष राशि के लिए फलादेश

गुरु बृहस्पति गोचर पूर्ण रूप से नवम भाव में हो रहा है। आपकी इस गोचर के प्रभाव के कारण आपके कारोबार में दिन दुगनी रात चौगुनी बरकत होगी ।

आपकी संतान आपका बहुत ही नाम ऊंचा करेगी जिससे आपके जीवन का सुख उत्तम बना रहेगा।

आपको अपने जीवन व समाज और समाज के लोग आपकी प्रतिष्ठा करेंगे और आपको बहुत ही मान सम्मान मिलेगा ।

आपको इस गोचर के दौरान बहुत ही ज्यादा धन की प्राप्ति होगी, आपको कारोबार में अत्यधिक सफलता मिलेगी ।

धार्मिक कार्यों में आपका मन अत्यधिक लगेगा और आपका मन प्रसन्न रहेगा । आपको कहीं तीर्थ यात्रा में जाने के बहुत अवसर मिलेगा। और इस गोचर के जरिये ही आपके घर में एक छोटा नन्हा मेहमान आने वाला है।

उपाय – हनुमान चालीसा का पाठ करें तथा हनुमान जी को पुष्प अर्पित करें।

गुरु बृहस्पति गोचर का मेष राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का वृषभ राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर का अष्टम भाव में हो रहा है। इस गोचर के दौरान शेयर मार्केट में निवेश करने से आपको बचना है । और आपको अपने कारोबार में निवेश करना ही है

उसके लिए आपको बहुत सोच – समझ कर उस पर विचार -विमर्श जरूर कर ले जिससे आपको किसी भी प्रकार की दिक्कत न आए ।

 इस गोचर के जरिये आपको किसी भी प्रकार की शारीरिक समस्या आ सकती है इसलिए आपको थोड़ा सचेत रहने की जरूरत है।

 आप किसी भी प्रकार के व्यापारी हो या सरकारी नौकरी करते हो पर यह गोचर आपके लिए बहुत ही बाधा उत्पन्न करने वाला है। आपको इस वर्ष सफलता मिलने का मौका नहीं है।

इस गोचर के दौरान आप संस्कारिक कार्यों में अधिक में लगाओगे तथा आप धार्मिक यात्राएं भी करोगे। इस यात्रा के दौरान धन खोने की संभावना है।

 इसलिए किसी से भी लेन -देन करने में थोड़ा विचार -विमर्श जरूर कर ले तथा किसी भी व्यक्ति पर ज्यादा भरोसा मत करें।

उपाय -गाय को काले चने और गुड खिलाये और घी का दान करें।

गुरु बृहस्पति गोचर का वृषभ राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का मिथुन राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर सप्तम् भाव में हो रहा है। आप किसी भी व्यक्ति के साथ मिलकर कार्य कर सकते हो क्योंकि यह गोचर आपके लिए अच्छा है। जो लोग पार्टनर्शिप में कम करना चाहते है उनके लिए ये समय अच्छा है।

यह गोचर आपकी वाणी में इतनी मिठास देखने को मिलेगी । आप आपने हर कम को बहुत ही सोच -समझ कर करना होगा ।

 यह गोचर आपको कहीं से धन लाभ भी दे सकता है इसमें कोई दो राय नहीं है। और आपको खाने -पीने से संबन्धित ज्यादा लगाव रहेगा। इस गोचर में आपका वैवाहिक जीवन बहुत ही आनंदपूर्ण रहेगा।

उपाय -शिव पार्वती की आराधना करनी है तथा घी का दीपक जालना है।

गुरु बृहस्पति गोचर का मिथुन राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का कर्क राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में देवताओं के गुरु बृहस्पति गोचर षष्टम भाव में हो रहा है। आपके षष्टम भाव में गुरु स्थित होने से आपके स्वास्थ्य  से संबन्धित कई समस्यायों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आप मानसिक तनाव से परेशान रहेंगे ।

 इसलिए बेहतर होगा की आप इन कठिन परिस्थितियों को बहुत ही सावधानी पूर्वक बनाए रखे जिससे आपको इन समस्याओं का कोई हल मिल जाए। इसमें आपको आपके पुराने शत्रु आपको परेशान कर सकते है।

पारिवारिक कलह देखने को मिल सकता है इसलिए आपको बहुत ही सावधान रहना होगा। बैंक में लोन लेने के लिए ये गोचर आपके लिए बहुत ही लाभदायक होगा। और आपको परीक्षा में सफलता मिलने के पूरे मौके है।

 इस काल अवधि  में आप अगर नौकरी की तलाश में है तो आपको नौकरी मिलेगी । अगर आपने अपनी मेहनत और लगन से कम किया तो नतीजे आपके ही पक्ष में होंगे।

उपाय- पीपल की पूजा करें तथा गरीबों को दान दे।  

गुरु बृहस्पति गोचर का कर्क राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का सिंह राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर पंचम भाव में हो रहा है। इस अवधि में आपके नए संपर्क बनेंगे और इनमें लाभ की प्राप्ति होगी ।

यह गोचर आपके लिए बहुत ही लाभकारी व शुभ समाचार लेके आयेगा । आप परोपकार और धार्मिक कार्यों में बहुत सहयोग करेंगे जिससे आपको लाभ होगा।

आपके कारोबार तथा नौकरी में अच्छी सफलता मिलेगी । पड़ने लिखने में आप ज्यादा रुचि रखोगे । इस गोचर के जरिये आप के घर कोई नन्हा मेहमान आने वाला है। जमीन लेने के  लिए यह समय बहुत अच्छा रहेगा ।

गुरु गोचर आपके जीवन में  धन देने वाला है। वैवाहिक जीवन तथा  संतान सुख प्राप्त होगा। यह गोचर आपके जीवन को बहुत ही सुखकारी बनाने वाला है।

उपाय- माँ गौरी का पाठ करें तथा पूजा अर्चना करें ।

गुरु बृहस्पति गोचर का सिंह राशि के लिए उपाय

 गुरु गोचर 2019 का कन्या राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर चतुर्थ भाव में हो रहा हैं । लेकिन यह गोचर आपके लिए थोड़ा प्रभावी जो आपके लिए अच्छा नहीं होगा ।

इस गोचर के दौरान आपका मन समाज सेवा में ज्यादा प्रभावी होगा। आप अपने जीवन को एक दूसरों के दिखावे से ज्यादा साधा जीवन जीने में रुचि रखते है।

इस गोचर के दौरान आपका व्यवहार बहुत ही मधुर और सौम्य होगा । यह भी हो सकता है की आपने किसी भी ऐसे व्यक्ति के साथ जो आपका अपना है विश्वासघात कर सकते है।

इसलिए आपको बहुत ही सोच -समझ कर कार्य करना होगा।

उपाय- गाय को गुड व चना खिलाये।

गुरु बृहस्पति गोचर का कन्या राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का तुला राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर तृतीय भाव में हो रहा है। तथा इस गोचर के दौरान आप किसी यात्रा पर भी जा सकते हो । और यह समय आपके घर लेने के लिए बहुत ही अच्छा है। इस गोचर में आपके अंदर आलस्य बना रहेगा ।

यह गोचर आपके लिए कुछ खास महत्व नहीं रखता है। अगर आप साहस से कम लेंगे तो कुछ समय बाद ही आपकी परिस्थितियाँ फिर से आपके अनुकूल हो जाएंगी ।

आपको क्रोध पर नियंत्रण रखना होगा। और आपकी धार्मिक कार्यों में रुचि हो सकती है। ईश्वर के प्रति आस्था में इजाफा होगा।

उपाय- शनि मंदिर में तेल का दीपक जालना है। और गरीबों को चने बाटने है।

गुरु बृहस्पति गोचर का तुला राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का वृश्चिक राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर द्वितीय भाव में हो रहा है। ज्योतिष में दूसरा भाव धन का स्थान माना जाता है। तथा यह भाव बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इस गोचर के दौरान आपके घर किसी धार्मिक पूजा -अर्चना होने की संभावना है।

आपके घर में मेहमानों का आना -जाना लगा रहेगा और आपका मन बहुत ही प्रसन्न होगा। आपको जीवन में आगे जाने अच्छे मौके है।

आपका जीवन साथी के साथ किसी यात्रा में जाने का अवसर मिल सकता है। अगर आपकी किसी के साथ में दुश्मनी है तो कोई भी दुश्मन कुछ भी नहीं बिगाड़ सकता है।

आप अपने दुश्मन से जीत सकते है। आपके कामकाज में वृद्धि होगी और अच्छा धन लाभ भी होगा और देखा जाए तो यह गोचर आपके लिया बहुत ही शुभ होगा।

उपाय- गायत्री मंत्र का जाप करना है।

गुरु बृहस्पति गोचर का वृश्चिक राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का धनु राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर पंचम भाव में  हो रहा है। इस गोचर के दौरान छात्र अपने माता -पिता का नाम रौशन कर सकता है और वैवाहिक सुख और संतान सुख अच्छा मिलेगा इस गोचर के दौरान आपके कामकाज में दिन दूनी रात चौगुनी बरकत होगी।

आप जिस काम के लिए आगे जाएंगे वो काम आपका पूरा हो जाएगा । इस गोचर के दौरान धन हानि होने की संभावनाएं अधिक है।

आपका गुस्सा देखने को मिलेगा पर आपको अपने गुस्से पे काबू पाना होगा। और धन का नुकसान होने के कारण अधिक है। आपका मन अशांत रह सकता है तथा आप बेवजह किसी के साथ बहस कर सकते है।

किसी भी काम को जल्द बाजी में न करें नहीं तो आपको हानि होने के अधिक मौके है।

उपाय- पीला पुखराज धारण करें ,पीले वस्त्र दान करें ।

गुरु बृहस्पति गोचर का धनु राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का  मकर राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर द्वादश भाव में हो रहा है । यह गोचर आपके लिए मिला -जुला रहने वाला है। इस गोचर के दौरान आप धार्मिक कार्यों में रुचि बनाने बाला है।

आप विदेश यात्रा करने के लिए जा सकते है । आपकी यात्रा सुखद होगी , संभावना है की आप इस गोचर में जमीन खरीद सकते है।

आप कामकाज के लिए लंबी दूरी की यात्रा कर सकते है। वैवाहिक सुख आपके जीवन को अत्यधिक खुशी देगा ,और आपका संयम मिलाजुला रहेगा ।  

आपको अपनी संतान के प्रति कुछ दिक्कतें आ सकती है। इसलिए आपको थोड़ा सावधान रहना होगा। और धन का आगमन होगा । परंतु उसी के अनुसार खर्च भी होगा। बेवजह किसी भी व्यक्ति से बाद विवाद न करें , नहीं तो आपके जीवन की दिक्कतें और बढ़ सकती है।

उपाय – गाय माता की पूजा करें तथा गुड शक्कर खिलाये ।

गुरु बृहस्पति गोचर का मकर राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का कुम्भ राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में गुरु बृहस्पति गोचर एकादश भाव में हो रहा है। इस गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य उत्तम रहेगा । अगर आपका स्वास्थ्य काफी दिनों से खराब है तो आपको इस गोचर में राहत मिल सकती है तथा ये गोचर आपके लिए उत्तम रहेगा । आपको भाग्य का साथ कदम -कदम पर मिलने वाला है ।

अगर आप नौकरी कर रहे तो आपको अच्छा धन लाभ होगा ,और काम का बिस्तार भी होगा। धन का निवेश करने के लिए भी यह गोचर लाभदायक होगा।

 अगर आप कोई भी व्यापार विदेश में कर रहे हो तो उसमें भी आपको अच्छा धनलाभ होगा,  आपके परिवार में सभी सदस्य खुश रहेंगे ।

उपाय- हनुमान चालीसा का पाठ करें , तथा गाय माता को आटे की लोई खिलाये।

गुरु बृहस्पति गोचर का कुम्भ राशि के लिए उपाय

गुरु गोचर 2019 का मीन राशि के लिए फलादेश

आपकी राशि में देवताओं के गुरु बृहस्पति गोचर दसम भाव में हो रहा है और यह गोचर दसम भाव में होने के कारण आपके लिए बहुत ही लाभकारी रहेगा।

 इस गोचर के दौरान आप अपने जीवन के कामकाज में सफलता पाओगे तथा कामकाज सिलसिले में घर से दूर जा सकते है। और इस गोचर के दौरान आप का योग घर लेने का भी बन रहा है। आपको धन लाभ भी मिलेगा ।

 यह गोचर आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत उत्तम नहीं है। स्वास्थ्य खराबी भी हो सकती है । अस्पताल के चक्कर भी लग सकते है। अगर आपने किसी का पैसा उधार लिया हो तो आप पहले से ही सतर्क को जाए क्योंकि आपको बाद में जोखिम न उठाना पढ़े ।

आप इस गोचर के दौरान अपने कुछ मित्रों से मुलाक़ात कर सकते है ,तथा किसी यात्रा में भी जा सकते है। यह गोचर आपके लिए उत्तम नहीं है इसलिए धन हानि भी हो सकती है आपको सचेत रहना होगा।

आप इस मंत्र का उपयोग कर सकते है जिससे आपके कष्टों का निवारण हो सके ।

उपाय- माँ दुर्गा का पाठ करें ,तथा माँ को हलवे का भोग लगाए ।  

गुरु बृहस्पति गोचर का मीन राशि के लिए उपाय