कुंभ राशि का परिचय और विशेषताएँ

कुंभ राशि का स्वभाव और व्यक्तित्व 

कुंभ राशि

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंभ राशि का स्वामी शनि ग्रह होता है। ज्योतिष में शनि गृह को कर्म फलदाता और पीड़ा का कारक माना जाता है। कुंभ राशि का स्वभाव देखा जाए तो बड़ा आकर्षित और शांतिपूर्ण होता है। ये अपने कार्यों में चतुराई दिखाने वाले होते हैं। कुंभ राशि के लोगों के साथ जो अच्छा व्यवहार करता है उनके लिए ये बहुत अच्छे और जो बुरा व्यवहार करता है उनके लिए बहुत बुरा व्यवहार रखते हैं।

जब इनके काम में कोई अपनी टांग अड़ाता है तो इनका आक्रामक रूप देखने को मिलता है। सच का साथ देने वाले और न्याय पर भरोषा करने वाले होते हैं। इन्हे धीरे-धीरे चलना पसंद होता है लेकिन ऐसी ऐसे भी जातक होते हैं जिन्हे धीमे चलना पसंद नही होता है। कुंभ राशि के जातकों का आकर्षक स्वभाव लोगों को अपनी ओर बहुत ज्यादा आकर्षित करता है। कुंभ राशि के लोग कोमल हृदय और शांतिप्रिय स्वभाव के होते हैं।

कुंभ राशि के जातक शर्मीले स्वभाव के होते हैं। ये वादे के पक्के और विश्वास के लायक होते हैं। कुंभ राशि की स्त्रियाँ ईमानदार और शांत स्वभाव की होती है, लेकिन ये अपने कार्य के लिए दूसरों का जल्दी सहारा नही लेना चाहती हैं। कुंभ राशि के जातक सिर्फ कहना पसंद करते हैं सुन्न नही। ये अपने जीवनसाथी के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने के लिए बेहद प्रयास करते रहते हैं।

इस राशि के जातकों की इच्छा शक्ति बेहद महबूत और अच्छी होती है। यदि समाज में इन्हे कोई बात सही लगती है और उसके अनुसार लोग काम नही करते हैं तो इन्हे बहुत बुरा लगता है जिसके कारण या तो ये शांत जाते हैं या फिर ये लड़ाई करने तक को तैयारा हो जाते हैं। 


यह भी पढ़ें- कुंभ राशिफल 2022 | कुंभ गुरु गोचर 2022



कुंभ राशि के जातकों की खामियाँ 

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातक शांत स्वभाव के होते हैं लेकिन अगर इनके साथ कोई गलत करता है तो ये चुप नही बैठते हैं। ये ज्यादा सोचने वाले और उस सोच के कारण उदास होने वाले होते हैं। ये कभी-कभी अपनी बात को सही मानते हैं फिर चाहे सामने वाला कैसा भी सोचे या कैसा भी करे। ये छोटी-छोटी चीजों और बातों पर ज्यादा ध्यान देते हैं।

कुंभ राशि के जातक दूसरों को बहुत नोटिस करने वाले होते हैं। ये जिसके साथ मित्रता करते हैं उसके साथ किसी भी हाल में खड़े रहते हैं। इस राशि के जातकों की एक बात खास होती है वह ये की ये अपने से बड़ों का सम्मान हमेशा करते हैं। यदि कोई काम इनके मन मुताबिक न हो तो ये बहुत जल्दी गुस्सा हो जाते हैं। इनकी ये आदत सबसे ज्यादा खराब होती है की ये दूसरों के झूठ को बहुत जल्द सच मान लेते हैं। ये अपने मित्र मंडली में सबसे अलग मिजाज के पाए जाते हैं।

ये सही सोचने वाले होते हैं इसी कारण कभी-कभी इनका सपना इनकी मंजिल बन जाती है। ये अपने मन की बात जल्दी किसी के साथ शेयर नही करते हैं अगर करते भी हैं तो उसके साथ जिसके ऊपर इन्हे बहुत ज्यादा भरोषा होता है। ये कोमल हृदय वाले होते हैं इसी कारण इन्हे छोटी से छोटी बात बहुत जल्दी बुरी लग जाती है और ये उस बात पर बहुत जल्दी विचार करने लगते हैं।


कुंभ राशि का प्रेम जीवन ( लव लाइफ )

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों का प्रेम जीवन देखा जाए तो ये प्यार के मामले में बहुत ज्यादा रोमांटिक स्वभाव के होते हैं। कुंभ राशि के लोग जितना प्रेम अपने प्रेमी/प्रेमिका से करते हैं उतना ही उनसे भी चाहते हैं। लोग इनकी ओर बहुत जल्द आकर्षित होते हैं लेकिन इनका आकर्षण इतना ज्यादा शक्त होता है की ये जल्दी किसी की ओर आकर्षित नही होते हैं।

कुंभ राशि के जातक अगर किसी से प्यार करते है तो वे उनके प्रति खुद को पूर्ण समर्पित कर देते हैं। इस राशि के जातक अपने प्रिय के साथ समय व्यतीत करना चाहते हैं बाते करना चाहते हैं लेकिन अक्सर इनका प्रिय मना करता रहता है। इस राशि के जातकों की एक खास बात होती है ये जिससे प्यार करते हैं तो सिर्फ उसी के बारे में विचार करते है। ये कभी इधर-उधर नही भटकते क्योंकि इनके अंदर एक अलग ही जज्बा होता है।

इस राशि के जातक ज़्यादातर अपनी ही राशि के लड़के/लड़कियों की ओर आकर्षित होते हैं, लेकिन इनका प्रेमी/प्रेमिका दूसरी कास्ट का होता है। ये कभी भी कास्ट और पारंपरिक बातों पर विश्वास नही करते हैं क्योंकि ये सोच रखते है की जीवन मुझे व्यतीत करना है। ये जिससे सच्चा प्यार करते है उसके लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं, क्योंकि ये उन्हे खोने से भी बहुत अधिक डरने वाले होते हैं।

इस राशि के लोग जिसके साथ शारीरिक संबंध बनाते  हैं उसके साथ विवाह करना भी चाहते हैं। इनका विवाह होने में बड़ी मुसीबतें आती है लेकिन इन्हे सफलता मिल जाती है। कुंभ राशि के जातकों की एक समस्या सबसे ज्यादा होती है ये न तो जल्दी अपने प्रिय की बात को समझते हैं और न उसे समझाते हैं।


कुंभ राशि का स्वास्थ्य

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों को सबसे ज्यादा हड्डियों और स्किन में परेशानियाँ होती है। खून की कमी होना, आँखों में समस्या उत्पन्न होता ये इनके लिए आम बात होती है लेकिन कभी-कभी यही बड़ा रूप ले लेती है जो बड़ी मुसीबत में भी डाल देती है। कुंभ राशि के जातकों को दिल की समस्या होने का भी डर बना रहता है।

वाहन चलाते समय ये डर का अनुभव करते हैं जिसके कारण ये बहुत सावधानी पूर्वक वाहन चलाना पसंद करते हैं। कुंभ राशि के स्वामी शनि के प्रभाव से जातक को संचार पद्धति, हाथ पैरों में अकड़न, सरद गरम से होने वाल एलर्जी और अन्य कई दुर्घटनाओं का शिकार होना पड़ सकता है।

इस राशि के जातकों को पेट से संबन्धित समस्या ज्यादा रहती है जैसे-गैस बनना, अपच और अफरा आदि। यदि इन्हे किसी कारण बीमारी का शिकार होना पड़ता है तो ये उस बात को छिपाना पसंद नही करते हैं और सबको सच बता देते हैं। 


कुंभ राशि
कुंभ राशि
कुंभ राशि